लता जी का अंतिम संस्कार: अनंत यात्रा पर स्वर कोकिला, राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

SHARE THE NEWS

रायपुर। हर भारत वासी के दिलों में राज करने वाली लता ताई को मुंबई के शिवाजी पार्क में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। उन्हें भाई हृदयनाथ मंगेशकर और भतीजे आदित्य ने उन्हें मुखाग्नी दी. इस दौरान देश की कई हस्थियां नम आखों के साथ पार्क में मौजूद रहे। लता दीदी के अंतिम दर्शन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शिवाजी पार्क पहुंचे।

भारत रत्न लता मंगेशकर को अनगिनत नम आंखों ने उन्हें विदाई दी। लता मंगेशकर के अंतिम संस्कार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे, शरद पवार, पीयूष गोयल, सचिन तेंदुलकर, शाहरुख खान समेत तमाम दिग्गज हस्तियां शामिल हुईं।

आज सुबह हुआ था निधन
92 वर्षीय लता जी का आज सुबह मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में निधन हो गया था। वो पिछले 28 दिनों से अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रही थीं। लता जी की 8 जनवरी को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। शनिवार (5 फरवरी) को अचानक उनकी तबीयत फिर बिगड़ गई थी, जिसके बाद उन्हें डॉक्टर्स ने वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा था।

देश में रहेगा राष्ट्रीय शोक
लता मंगेशकर के निधन पर देश में दो दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित किया गया है, इस दौरान सभी स्थानों पर तिरंगा आधा झुका रहेगा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी समेत तमाम दिग्गज नेताओं, अभिनेताओं और अन्य क्षेत्र से जुड़े लोगों ने लता मंगेशकर के निधन पर दुख व्यक्त किया है।

इंदौर में लिया था जन्म
स्वर कोकिला लता मंगेशकर का जन्म 28 सितंबर, 1929 को मध्य प्रदेश के इंदौर में हुआ था। दीनानाथ मंगेशकर, शेवन्ती मंगेशकर की बेटी लता की परवरिश महाराष्ट्र में ही हुई थी। लता मंगेशकर के परिवार का कला से नाता रहा, उनके पिता कलाकार थे। लता मंगेशकर खुद गायिका बनीं, उनके अलावा भाई हृदयनाथ मंगेशकर, बहन उषा मंगेशकर, मीना मंगेशकर और आशा भोंसले भी संगीत से जुड़ी रहीं।

2001 में मिला था भारत रत्न
लता मंगेशकर को 2001 में संगीत की दुनिया में उनके योगदान के लिए भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से नवाजा गया था। इसके पहले भी उन्हें कई सम्मान दिए गए जिसमें पद्म विभूषण, पद्म भूषण और दादा साहेब फाल्के सम्मान भी शामिल हैं।

 472 Views,  2 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: