रायपुर नगर निगम शहर के 18 तालाबों को तेलीबांधा तालाब के तर्ज पर करेगा विकसित

SHARE THE NEWS
  • 18 तालाबों का होगा जीर्णोद्धार
  • निगम के आय में होगी वृद्धि

रायपुर। राजधानी रायपुर में नगर निगम की ओर से लगातार शहर के तालाबों को सवारने का काम किया जा रहा है। ताकि तालाबों के इस अमूल्य धरोहर को सहेज कर रखा जा सके। शुक्रवार को महापौर एजाज ढेबर ने एमआईसी की बैठक में एक बार फिर शहर के विभिन्न तालाबों के सौंदर्यीकरण करने की स्वीकृति दी है। बैठक में शहर के तालाबों का आपरेशन, मेन्टेनेंन्स रिकियेशन और विविध गतिविधियां तेलीबांधा तालाब की तर्ज पर किया जाएगा। तालाबों के संरक्षण और संवर्धन के लिए स्वीकृति से नगर निगम को आय में भी वृद्धि होगी।

आपको बता दें रायपुर नगर निगम ने स्मार्ट सिटी के साथ मिलकर रायपुर के बीचों-बीच स्थित लगभग 600 साल पुराने ‘बूढ़ातालाब’ यानी ‘स्वामी विवेकानंद सरोवर’ का सौंदर्यीकरण किया है। बूढ़ातालाब के कायापलट बाद अब यह पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बन गया है। बूढ़ा तालाब की सुंदरता का असर अब शहर के अन्य तालाबों में भी नजर आएगा। महापौर एजाज ढेबर के प्रयासों से इसकी कवायद भी शुरू हो गई है।

सौंदर्यीकरण की स्वीकृति में ये तालाब हैं शामिल
सौंदर्यिकरण के लिए नगर निगम ने शहर के कुल 18 तालाबों को चयनित किया है। जिसमें महंत तालाब आमानाका, हांडी तालाब शीतला मंदिर के पीछे, नरैया तालाब, आमा तालाब, खो-खो तालाब/ पहलदवा तालाब / बंधवा तालाब, कारी तालाब, आमापारा बाजार के पास आछी तालाब, भाठागांव, बंधवा तालाब मठपुरैना, छुईया तालाब, बंधवा तालाब गोगांव, बंधवा तालाब गोंदवारा, बंधवा तालाब भनपुरी बंधवा तालाब दलदलसिवनी, ठाकुर दिया तालाब, कोठा दरीं तालाब, सरजूबांधा तालाब, करबला तालाब और बंधवा तालाब कचना को चिन्हांकित किया गया है।

इस प्रस्ताव से नगर निगम उक्त तालाबों का संरक्षण कर सकेगा साथ ही रखरखाव में होने वाले व्यय की भी बचत होगी। इसके अलावा शहीद ब्रिगेडियर उस्मान वार्ड में पानी निकासी हेतु छुईया तालाब में बड़ा नाला निर्माण कार्य हेतु 98.37 लाख रूपये स्वीकृति दी गई।

 680 Views,  2 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: