श्रमिकों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं दी जाएं : श्रम मंत्री डॉ. डहरिया

SHARE THE NEWS

बिलासपुर में श्रमिकों के लिए बनेगा एक सौ बिस्तर अस्पताल, कर्मचारी राज्य बीमा निगम की क्षेत्रीय परिषद की बैठक

रायपुर, 02 मार्च 2022 नगरीय प्रशासन एवं विकास तथा श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने बिलासपुर में श्रमिकों के लिए एक सौ बिस्तर अस्पताल निर्माण के लिए आवश्यक कार्यवाही जल्द शुरू करने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने आज राज्य मंत्रालय महानदी भवन में राज्य कर्मचारी बीमा निगम की क्षेत्रीय परिषद् की बैठक में कहा कि श्रमिकों को बेहतर सुविधाएं मिले इसके लिए कार्य योजना बनायी जाए। कर्मचारी राज्य बीमा योजना के तहत अधिक से अधिक श्रमिकों का पंजीयन किया जाए।

नगरीय प्रशासन एवं श्रम मंत्री डॉ. डहरिया ने कहा कि श्रमिकों के हित में राज्य के अन्य जिलों में भी चिकित्सा सेवाएं का विस्तार किया जाए, जिससे सभी जिलों में जरूरतमंद श्रमिकों को इलाज की सुविधा मिले। उन्होंने कहा कि कर्मचारी राज्य बीमा निगम एवं कर्मचारी राज्य बीमा सेवाओं के अधिकारी समन्वित प्रयास कर एक कार्ययोजना बनाकर कार्य करें।

उनहोंने कहा कि उन सभी जिलों में जहां अधिनियम के प्रावधान लागू है तथा जहां कोई चिकित्सा सुविधा नही है उन सभी जिलों में टाई अप अस्पताल की व्यवस्था की जाए। बैठक में अधिकारियों ने बताया कि राज्य के 10 जिलों में 42 औषद्यालय संचालित हैं।

राज्य के 54 निजी अस्पतालों को अनुबंधित कर कर्मचारी राज्य बीमा निगम के तहत बीमित हितग्राहियों को रोगी चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही है। वर्तमान में रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर एवं रायगढ़ में सेकेण्डरी केयर हेतु टाई अप अस्पताल की व्यवस्था है। बैठक में कर्मचारी राज्य बीमा अस्पतालों के निर्माण के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई।

बैठक में इसी तरह से चांपा, बेमेतरा, अम्बिकापुर, पलारी (बलौदाबाजार) में कर्मचारी राज्य बीमा निगम के नए कार्यालयों, सह शाखा कार्यालय एवं औषधालय खोलने के संबंध में चर्चा के साथ ही उद्योग एवं मजदूर संघ के सदस्यों ने श्रमिक हितों एवं सुविधाओं के संबंध में आवश्यक सुझाव दिए।

बैठक में श्रम विभाग के सचिव अमृत खलको, कर्मचारी राज्य बीमा निगम के निदेशक सहित अन्य अधिकारी, उद्योग एवं मजदूर संघ के पदाधिकारी ऑनलाइन शामिल हुए।

 266 Views,  2 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: