भावेश के जुझारू नेचर और मेहनत ने एनएसयूआई अध्यक्ष के लिए दावेदारी किया मजबूत

SHARE THE NEWS

रायपुर- कांग्रेस के छात्र विंग एनएसयूआई में नये प्रदेश अध्यक्ष की नियुक्ति होने वाला है। सूत्रों की माने तो एन.एस.यू.आई. इस बार सक्रियता और सभी छात्रों के चहिते यूथ आइकॉन भावेश शुक्ला को प्राथमिकता देने वाली है। छत्तीसगढ़ एनएसयूआई अध्यक्ष चुनाव के लिए 12 युवा नेताओं को इंटरव्यू के लिए बुलाया गया था, जिनमें भावेश शुक्ला सबसे प्रमुख चेहरा है।
सभी युवा प्रत्याशियों के इंटरव्यू होने बाद कयास लगाया जा रहा है कि भावेश शुक्ला को इस बार एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी मिलने की संभावना ज्यादा है । वहीं प्रदेश की बड़े नेताओं की और सूत्रों की मुताबिक भी इस दौड़ में सबसे आगे छत्तीसगढ़ एन.एस.यू.आई. के प्रदेश उपाध्यक्ष भावेश शुक्ला अव्वल हैं।
छात्र हित में भावेश का विचार
गौरतलब है भावेश शुक्ला तीन साल पहले छत्तीसगढ़ एन.एस.यू.आई. के प्रदेश उपाध्यक्ष बनाये गए थे । जिसके बाद उन्होंने लगातार छात्र हित में ही काम किया और छात्रों को हमेशा ही लाभ पहुंचाने का काम किया है। इसी कारण भावेश शुक्ला का संगठन और प्रदेश में मजबूत पकड़ है । आपको बता दें भावेश ने कोविड़-19 महामारी के दौरान भी छात्र हित का पूरा ध्यान रखा और रविशंकर शुक्ल यूनिवर्सिटी के छात्रों के फीस संबंधी समस्या का समाधान किया था । भावेश शुक्ला के इस कदम से यूनिवर्सिटी के हजारों छात्रों को कोरोना काल में आर्थिक तंगी से जुझ रहे छात्रों को राहत मिली थी। यहीं नहीं भावेश ने भाजपा शासन काल के दौरान जन समस्याओं के मुद्दों को भी जमकर विरोध किया और प्रथम पंक्ति में रहे।
भावेश की दावेदारी मजबूत
सूत्रों के मुताबिक मिली सूचना के अनुसार भावेश की सक्रियता तो संगठन में प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए सही सटीक साबित हो रहा है । अब सभी को नाम की घोषणा होने की इंतजार है देखना रोचक होगा इस दौड़ में कौन आगे निकलता है और कौन पीछे रह जाता हैं। फिलहाल भावेश का संगठन के प्रति जुझारू नेचर और मेहनत उनकी दावेदारी को ज्यादा मजबूत कर रहा है ।

 1,534 Views,  2 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: